Jharkhand

Displaying 1 - 10 of 27
Pinki Biswas Sanyal
in Image Gallery
सरोज केरकेट्टा (Saroj Kerketta)
झारखंड सांस्कृतिक विविधताओं का प्रदेश है। साल वनों के इस मनोरम प्रदेश में 32 आदिवासी समुदाय रहते हैं। इसके अलावा यहाँ एक अच्छी-खासी सँख्या मूलवासी गैर-आदिवासियों की भी है जिन्हें यहाँ ‘सदान’ कहा जाता है। ये दोनों समूह मिलकर झारखंड की संस्कृति, कला परंपरा और कारीगरी की बहुरँगी दुनिया का निर्माण करते…
in Article
सरोज केरकेट्टा (Saroj Kerketta)
मूलतः पहले लोग कपड़े नहीं पहनते थे, क्योंकि उन्हें नहीं पता था कि बुनाई कैसे की जाती है। दुनिया की पहली बुनकर हैम्ब्रुमाई नाम की एक लड़की थी, जिसे सृष्टिकर्ता मताई ने यह कला सिखाई थी। नदी किनारे बैठकर उसने लहरों और तरंगों को देखा और उसका अनुकरण अपने डिजाइनों में किया। वह जंगल में गई और पेड़ों की…
in Overview
सरोज केरकेट्टा (Saroj Kerketta)
‘वह छोटानागपुर में रांची नाम के किसी शहर से आया था।...सातवीं क्लास तक पढ़ा भी था। घर में उसके कपड़े बुनने का काम होता था।... खुद सूतों की रंगाई कर लेता था। तानी करने में जितने फुर्तीले उसके हाथ थे, घर में किसी का नहीं था। करघा चलाने की तो बात अलग, नये-नये डिजाइन बनाने में उसका सानी नहीं था। अच्छा…
in Interview
सरोज केरकेट्टा (Saroj Kerketta)
झारखंड के पारंपरिक वस्त्रों की पहचान लाल पाड़ वाली साड़ी, गमछे और चादर  हैं। मोटी सूती कपड़े से बनने वाले ये उजले और लाल रंग के कपड़े झारखंड के सभी आदिवासी समुदायों द्वारा समान रूप से इस्तेमाल किए जाते हैं। इन पारंपरिक आदिवासी कपड़ों को बुनने और बनाने का काम मुख्यतः झारखंड के सिमडेगा जिले के ‘चिक बड़ाईक…
in Module
Raja Alam
Tusu, a harvest festival, is one of the three major festivals of the Kurmi community in West Bengal, Jharkhand and Odisha. The other two festivals are Karam and Bandna. These are all annual festivals and come one after another. From the middle of November to the middle of December (according to the…
in Article
Jaya Aishwarya
  Introduction Cultural heritage has been defined by UNESCO in terms of three domains: tangible culture like buildings, monuments, landscapes, books, works of art and artifacts; intangible culture such as folklore, traditions, language and knowledge; and natural heritage such as culturally…
in Overview
M.D. Muthukumaraswamy
in Image Gallery
Gauri Bharat
Dusk was settling over the Sanskriti Museum in Hazaribagh, when I arrived to meet Mr Bulu Imam. His house nestled within a grove of tall trees, he was seated in the veranda surrounded by a group of people. He was speaking to two students who were scheduled to represent Jharkhand in a national…
in Article
Gauri Bharat
The state of Jharkhand is part of the central tribal belt of India and home to more than 40 Adivasi communities such as Munda, Oraon, Ho, Santal, Birhor and Kharia. The habitations of these communities typically comprise mud houses located within paddy fields and forests. Driving along the highway…
in Overview